शुक्रवार, 25 नवंबर 2011

बिग बॉस का घर और 'सनी लियोन'

भैया!!!... बिग बॉस ने अपने घर की नीरसता को दूर करने के लिए एक विदेशी... अरे नहीं....'भारतीय मूल की' विदेशी मेहमान को अपने घर में बुलाया है.....भई, बड़ी ख़ूबसूरत हैं वो... नाम बताया गया 'सनी लियोन' और आते ही उन्होंने यह ऐलान कर दिया है कि वे वेश्या नहीं हैं। अरे भैया...उन्हें वेश्या कौन गुस्ताख़ कह रहा है... अरे हम हिन्दुस्तानी विदेशों से आने वाली ख़ूबसूरत मेहमानों को वेश्या नहीं समझते.... विदेशों में भले ही हमारे पूर्व राष्ट्रपति तक का सम्मान न होता हो, हम हिन्दुस्तानी 'अतिथि देवो भव', मंत्र का निरन्तर जाप करते हुए विदेशी मेहमानों को पूरा सम्मान देते हैं... फ़िर वो चाहे 'हिना रब्बानी' हों या 'लेडी गागा', हम उनके साथ बड़े प्यार-मुहौब्बत और सम्मान से पेश आये... इसलिए मैडम आप बिलकुल निश्चिन्त रहें... लेकिन ध्यान रहे हमारे इस 'प्रेमी' स्वभाव को हमारा भोंदूपन न समझ लीजियेगा, तसलीमा नसरीन जैसी विदेशियों के देश में घुसने पर भी हमें सख्त ऐतराज़ है।

  ऐसा नहीं है कि केवल हम हिन्दुस्तानी ही प्यार-मुहौब्बत का कॉपी-राईट लिए बैठे हैं, 'रिचर्ड गेर टाइप' कुछ फ़राख़-दिल विदेशी भी हिन्दुस्तानियों के साथ 'बड़े प्यार' से पेश आते हैं..... ख़ैर बात करते हैं  'सनी लियोन' की... बताया गया कि वे 'पोर्न स्टार' हैं..... अमां! राक स्टार, फ़िल्म स्टार, सुपर स्टार, मेगा स्टार, फाइव स्टार  तो सुना था, ये 'पोर्न स्टार' क्या बला है........ भई जब इतने गर्व से बता रही हैं तो कोई सम्मानित कार्य ही होगा..... 

   हमने तो कभी 'सनी लियोन' का नाम भी नहीं सुना था और इस वक़्त हिन्दुस्तान भर में मेरे जैसे कम सामान्य ज्ञान वाले, छोकरे और बुज़ुर्ग इन्टरनेट आदि की सहायता से इस पर शोध कर रहे हैं....पर ये क्यूरियासिटी के कीड़े भी न, बड़े बेशर्म होते हैं जनाब...एक नौजवान से पूछ ही बैठा- भईया! ये 'पोर्न स्टार' क्या होता है... तंज़ भरी नज़रों से देखकर बोला... अब दद्दू इतने शरीफ़ भी न बनो... मैंने कहा- अमां! बताओ तो सही!!!... उसने कहा- अरे दद्दू!! हम हिन्दुस्तानी सबसे ज़्यादा इन्टरनेट किसलिए इस्तेमाल करते हैं..... हाँ!... हाँ! वही-वही, आप ठीक समझ रहे हैं.....ये 'सनी लियोन' "वो वाली" फ़िल्मों की हिरोइन हैं.... इन्होने इस क्षेत्र में बड़ा नाम कमाया है... इसलिए ये 'पोर्न स्टार' हैं, आप इतना भी नहीं जानते..... मेरे बड़प्पन को बड़ा झटका लगा, मैंने शर्मिंदगी छिपाकर, अपनी ग़ैरजानकारी पर पर्दा डालते हुए कहा- अमां जाने दो यार! शक्लें कौन याद रखता है..... अब मुझसे सहमत होने की उसकी बारी थी

   एक बात ये भी कि जब कमाल राशिद खान(KRK) जैसे 'बड़े' डायरेक्टरप्रोडयूसर भी उन्हें नहीं जानते तो मेरे जैसे मामूली आदमी के लिए शर्मिंदा होने की ज़्यादा ज़रुरत नहीं है....
  
   अच्छा...!!! तो  अब समझ में आया कि वो मोहतरमा ठीक ही फ़रमा रही हैं, सचमुच वे वेश्या नहीं हैं...वे अपनी इज़्ज़त संभाले ग़ुमनाम बंद कमरों में नहीं जातीं.... वे पुलिसिया रेड का अनावश्यक दर्द मोल नहीं लेतीं...वे तो ग्लैमर वर्ल्ड का हिस्सा हैं, वे किसी व्यक्ति विशेष को व्यक्तिगत सुख न देकर, खुले तन-मन से हम सबका बिना किसी भेद-भाव, मनोरंजन करती हैं.....वे तो पब्लिक प्रॉपर्टी अरे..रे..रे..उफ्फ्फ!! इस ज़ुबान का क्या करूँ... ऊपर वाले ने पता नहीं कौन सा lubricant लगा कर भेजा है, मुई बात-बात में फ़िसल जाती है....मेरा मतलब था वे तो 'सेलेब्रिटी' हैं...  अब मेरे मन में उनके प्रति सम्मान थोड़ा और बढ़ गया है....आख़िर वे भारतीय मूल का परचम पूरी दुनिया में जो फ़हरा रही हैं      

   मुझे वो ज़माने आज भी याद हैं जब विदेशी के नाम पर 'सलमा आग़ा' से काम चलाना पड़ता था और दिल के अरमां नालियों में बह जाते थे....उन दिनों बिग बॉस,  'बिग बॉस' तो क्या, 'बॉस' भी नहीं थे, लेकिन साहब जब से उनकी तरक्क़ी हुई है और वे बिग बॉस बने हैं, उन्होंने हम हिन्दुस्तानियों की दिमाग़ी सेहत का पूरा ख़याल रक्खा है और साबित कर दिया है कि वे बिग बॉस अपनी क़ाबिलियत के दम पर बने हैं न कि किसी 'सेटिंग' के आधार पर।
    
   बिग बॉस की खोजी प्रवृत्ति और सामान्य ज्ञान तो वाक़ई में बहुत ही उम्दा है...वे इतने बड़े पोर्न साम्राज्य से भारतीय मूल की 'पोर्न स्टार' हम सबके लिए ढूंढ लाये....उनकी 'दरियादिली' के तो कहने ही क्या?.....वे हम हिन्दुस्तानियों के नाच-गाना देखने के 'ऐतिहासिक' शौक़ को तो जानते ही हैं, साथ ही 'सनी लियोन' के 'अन्य' talent भी बाख़ूबी जानते हैं इसलिए उन्होंने 'सनी लियोन' को एक हफ़्ते तक सोने से पहले रोज़ नाचने का आदेश दिया है। कुछ दिन पहले मैंने भी उनके शानदार 'poll dance' का लुत्फ़ उठाया.....सच में बड़ा मज़ा आया, एकदम 'ज़िल्ले इलाही' टाइप की फीलिंग आई....

   ऐसा नहीं है कि बिग बॉस पहली बार ख़ूबसूरत विदेशी मेहमान हमारे लिए लेकर आये हैं..वे पहले भी ऐसा करके हमें उपकृत कर चुके हैं। सीज़न-3 में 'क्लॉडिया' को तथा सीज़न-4  में 'पामेला एंडरसन' को हमसे रू-ब-रू करा चुके हैं साथ ही पिछले सीज़न में पड़ोसी मुल्क़ की एक और शख्शियत, 'शौक़ीन' क्रिकेट खिलाड़ी, मो.आसिफ़ की परम सखी 'वीना मलिक' को हमारे समक्ष लेकर आये थे।
                           
  क्लॉडिया, सनी लियोन के मुक़ाबले इतनी 'हुनरमंद' नहीं थीं.... और असली शो- 'ज़ोर का झटका' में थोड़ी-बहुत उछल-कूद करके 'फुस्स' हो गईं.... और पामेला, हुनरमंद तो हैं लेकिन अब 'बुज़ुर्ग' हो चली हैं.... एक कमी और थी कि उनके साथ 'भारतीय मूल' जैसा 'अपनत्व' का एहसास नहीं था..... रही बात वीना मलिक की तो उन्होंने थोड़ी बहुत उम्मीदें जगाई थीं लेकिन बाद में वे क्रिकेट विशेषज्ञ बनकर सिर्फ़ यही दर्शा सकीं कि मो.आसिफ़ उन्हें केवल क्रिकेट की बारीकियाँ ही सिखा पाए.... क्रिकेट विशेषज्ञ के रूप में जब हमारे पास मंदिरा बेदी जैसी शुद्ध भारतीय शख्शियत है तो हमारे लिए उनकी कोई आवश्यकता नहीं रह गई।

   अब सनी लियोन के नाचने के हुनर को देखकर एक नई चिंता मुझे खाए जा रही है कि भारतीय मूल के चक्कर में राखी सावंत जैसी शत प्रतिशत शुद्ध भारतीय नर्तकियों का क्या होगाजैसा कि सनी लियोन ने स्वयं बताया कि वे बहुत अच्छी 'human being' हैं इसलिए उम्मीद करता हूँ कि वे किसी हिन्दुस्तानी के रोज़गार पर आघात नहीं करेंगी, फ़िर भी हम सबको उनसे बहुत उम्मीदें हैं।
   कुछ भी हो, हम हिन्दुस्तानियों  को एक नए profession से रू-ब-रू कराने, हम सबका सामान्य ज्ञान update कराने और अंत में उस 'poll dance' के लिए मैं बिग बॉस का तहेदिल से शुक्रिया अदा करता हूँ....बिग बॉस की जय हो!!!


2 टिप्‍पणियां:

  1. व्यवसायिक सोच और टीआरपी के लिए जितना भी करें इन चेनल्स को कम ही लगता है..... सटीक व्यंग

    उत्तर देंहटाएं